Yoga

रोज सुबह एक स्वच्छ वातावरण में नियमित योग(योगासन) करने से शरीर की इम्युनिटी (रोग प्रतिरोधक क्षमता) को मजबूत बनाया जा सकता हैं।
हमारे शरीर को रोगों से बचाव में इम्युनिटी एक रक्षाकवच की तरह काम करती हैं यानी शरीर को बीमारियों से संक्रमित होने से बचाव करती हैं।अगर हमारे शरीर की इम्युनिटी अच्छी हो तो कोई भी वायरस, बैक्टीरिया हमारे शरीर को संक्रमित नही कर सकता हैं।इसलिए हमारे शरीर की इम्युनिटी जितनी मजबूत हो,उतना ही हमारा शरीर बीमारियों से लड़ने में सक्षम रहता हैं।जिन लोगों को इम्युनिटी का ज्ञान होता है वह शरीर की इम्युनिटी बढ़ाने के लिए अनेको तरह के उपायों को ढूढ़ते रहते हैं। इसलिए जानकारी के लिए बता दें शरीर की इम्युनिटी बढ़ाने में योग एक बेहतरीन विकल्प हो सकता हैं।क्यूक़ि जब हजारों साल पहले हमारे पास शरीर को बीमारियों से बचाव के लिए कोई मेडिकल सुविधाएं उपलब्ध नहीं थी तब योग ही एक मात्र विकल्प था।

 

हमारे ऋषिमुनियों द्वारा ऐसे योगासनों के बारे में उल्लेख किया गया हैं अगर उन योगासनों को हम मात्र 10%भी अपने जीवन में अपनाएं तो हमारे शरीर की इम्युनिटी मजबूत व शरीर रोगमुक्त हो सकता हैं।आइए जानें ऐसे 5 योगासन जो शरीर की इम्युनिटी को बढ़ाने के लिए सबसे ज्यादा कारगर साबित हो सकते हैं।

इम्युनिटी बढ़ाने के लिए 5 कारगर योगासन

yogasana to increase immunity in Hindi

1.ताड़ासन (Mountain Pose)-

ताड़ासन एक ऐसा योगासन हैं जो शरीर की इम्युनिटी को बढ़ाने के साथ-साथ शरीर को तनाव मुक्त व शरीर की बिर्द्धि करनें में में भी सहायक होता हैं।ताड़ासन को माउंटेन पोज़ के नाम से भी जाना जाता हैं।इस योगासन को करने का उचित समय प्रातः काल का समय होता हैं।इस योग को सुबह खाली पेट करनाकरMountain Pose

ताड़ासन करने का तरीका
●इस योगासन को करनें के लिए साफ और सुथरी जगह में मैट बिछाएं।
●अब अपने दोनों पंजो को मिलाकर और कमर को सीधा करके सीधे खड़े हो जाएं।
●भुजाओं को सिर के ऊपर आराम से सीधे उठाएं।अब उंगलियों को आपस में फसाकर हथेलियों को ऊपर करें यानी आसमान की तरफ करें।
●अब सिर के स्तर से थोड़ा ऊपर ध्यान से सामने दीवार पें किसी एक बिंदु को पर देखें।इस बात का ध्यान रखें अगर दोबारा इस योग को करेंगे तो फिर से इसी बिन्दु पें ध्यान देना है।
●अब अपने बाजुओं, कन्धों व छाती को ऊपर की तरफ खींचे।अब आप इसके लिए पैरों के उंगलियों के बल आ जाएं ताकि आपकी एड़ी ऊपर उठ सकें।इस आसन को आपको बहुत धीरे-धीरे करना होगा जिससे आपका संतुलन बना रहें।
●पूरे शरीर को ऊपर से नीचे तक सीधे बनाए रखें।सांस लेते रहें और कुछ सेकेंडों के लिए यही मुद्रा बनाएं रखें।
●शुरवाती दिनों में इस आसन में संतुलन बनाने में आपको मुश्किल हो सकती हैं।निरतंर अभ्यास करते रहने पर यह आसन आसानी से हो जाएगा।
●इस योगासन को नियमित 5-10 बार करें।


 

2.त्रिकोणासन (Triangle Pose)
त्रिकोणासन का नियमित रूप से अभ्यास करने पर शरीर का इम्युनिटी सिस्टम मजबूत होता हैं।यह आसन त्रिभुज की आकृति की तरह होता हैं।इसलिए इसे त्रिकोणासन के नाम से जाना जाता हैं।यह योगासन सुबह उठकर खाली पेट करना होता हैं।जो शरीर की इम्युनिटी को बढ़ाने में बहुत फायदेमंद माना जाता हैं।
Triangle Pose
त्रिकोणासन करने का तरीका
●सबसे पहले सीधे खड़े हो जाएं और सांस को अंदर लें व पैरों को 3.5 से 4 फिट तक फैलाकर खोल दें।
●उसके अपने दोंनो हाथों को कंधे से बाहर ले आएं।
●अब अपने बाएं पैर को बाई और मोड़े व दाएं पैर को सामने की तरफ ही रहनें दें।
●अब बाएं हाथ को धीरे से नीचे लें आए ताकि बाएं पैर के पंजे को या नीचे जमीन को को छुवा जा सकें।इसी दौरान दाहिने हाथ को ऊपर आकाश की तरफ सीधे ले जाएं।इस दौरान आपके घुटने बिल्कुल भी मुड़ने नही चाहिए और दाहिने हाथ की उंगलियों को देखने की कोशिश करते रहें।
●दोनों हाथों को एक ही सीध में रखने की पूरी कोशिश कर।
●अब पैर की पंजो की तरफ देखते हुवे प्रारंभिक स्थिति में आ जाएं।
●अब सीधे खड़े हो जाएं व इस प्रकिया को अब दाहिने तरफ करें।
●इस आसन के दौरान कुल मिलाकर पांच बार सांस अंदर लें और बाहर छोड़े इस तरह आप आसन समय बढ़ा सकेंगें।
●इस आसन को नियमित 5-10  बार करें।


 

3.भुजंगासन (Cobra Pose)
भुजंगासन हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में बहुत फायदेमंद होता हैं।इस आसन को कोबरा पोज़ के नाम से भी जाना जाता हैं।क्योंकि यह आसन एक कोबरा के उभरे हुवे हुड की तरह  दिखता है।आइए जाजCobra Pose

भुजंगासन करने का तरीका

●इन आसन के लिए सबसे पहले पेट के बल लेट जाएं।
●अब पैरों के तलवों को आकाश की और रखें।
●हथेलियों को छाती के समीप रखते हुवे अपने छाती को धीमे-धीमे उठाएं ,इस मुद्रा में आपको हाथों को पूरे तरह सीधे नहीं करना हैं।
●यह ध्यान रखना बहुत जरूरी हैं की सिर से लेकर पेट के निचले हिस्से को हवा में उठाना हैं और कमर से नीचे का हिस्सा जमीन पर ही रहना चाहिए।
●पैरों की उंगलियां जमीन पें टिकी होनी चाहिए।
●पीठ को आराम से जितना मोड़ सकते हो उतना ही मोड़े।
●कम से कम 5 बार धीरे-धीरे सासों को अंदर ले और बाहर छोड़े।
●यह बहुत आसान योग हैं इस योग का अभ्यास आप नियमित आसानी रूप से करें।


 

4.पादंगुष्ठासन (Big Toe Pose)
पादंगुष्ठासन इम्युनिटी बढ़ाने के लिए बहुत आसान और फायदेमंद योगासन हैं।इस योग को बिग टो पोज़ के नाम से भी जाना जाता हैं।इस योग का अभ्यास भी आप सबुह खाली पेट करें।Big Toe Pose
पादंगुष्ठासन करने का तरीका
●इस योग के लिए आप सबसे पहले सीधे खड़े हो जाएं।
●अब पैरों के बीच 2 से 3 इंच का अंतर बना लें।
●सांसो को छोड़ते हुवे आगे की और झुकें।
●ध्यान रखें इस दौरान पैर मुड़ने नही चाहिए।
●अब पैरों के पंजो को पकड़ने की कोशिश करें।
●अपने हाथों की उंगलियों से पैरों की उंगलियों को दबाएं रखना हैं।
●अब सांसो को छोड़े और अपने धड़ को ऊपर उठाएं।उसके बाद फिर सांसो को छोड़ते हुवे आगें झुकें।
●इस मुद्रा में कम से कम 30 से 60 सेकण्ड तक रहें।
●इस योग को प्रतिदिन कम से कम 5-10 बार नियमित करें।


5.मत्स्यासन-(फिश पोज़)
यह शरीर की इम्युनिटी को मजबूत बनाने के लिए एक आसान योग हैं। मत्स्य का अर्थ मछली होता है।इस आसन में हमारे शरीर का आकार मछली जैसा बन जाता हैं इसलिए इसे मत्स्यासन के नाम से जाना जाता हैं।इसे अंग्रेजी में फिश पोज़ के नाम से पुकारा जाता हैं।

मत्स्यासन करनें का तरीका

●सबसे पहले इस आसन के लिए पीठ के बल लेट जाएं।
●इस आसन के दौरान हाथ की हथेलियां जमीन को छूती रहे।
●इसके बाद सांसो को अंदर ले। छाती को जमीन से ऊपर उठाएं और अपने सिर को आराम से पीछे ले जाएं।ध्यान रखें सिर का पिछला भाग जमीन को छूता रहें।
●संतुलन को बनाएं रखने के लिए कोहनी का उपयोग भी कर सकते है।
●आराम से सांस लेते रहें।
●कम से कम 30 से 40 सेकण्ड तक इसी  मुद्रा में रहें।
●अब इस अवस्था से बाहर आने के लिए धीरे से गर्दन को सीधा करें और धीरे से वापस लेट जाएं।
●इस योग को प्रतिदिन कम से कम 5-10 बार नियमित करें।
इस तरह आप शरीर की इम्युनिटी को बढ़ाने के लिए ज 5 सबसे कारगर योगासन को अपने जीवन में ला सकते हैं,इनका निरतंर नियमित रूप स अभ्यास करते रहें।आशा करते हैं ये जानकारी आपके लिए फायदेमंद हो और आप हेल्दी और सुखी रहें।

👉नोट-योगासन से सम्बंधित यह केवल सामान्य जानकारी हैं। कृपया इन योगों से सम्बंधित सम्पूर्ण जानकारी के लिए योग से सम्बंधित विशेषज्ञों की सलाह लें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here