एनीमिया क्या हैं?जानें इसके लक्षण, कारण और घरेलू उपचार What is anemia? Learn its symptoms, causes and home remedies in Hindi

एनीमिया क्या हैं?जानें इसके लक्षण, कारण और घरेलू उपचार

What is anemia? Learn its symptoms, causes and home remedies in Hindi

anemia

 एनीमिया यानी शरीर में खून की कमी का होना (जब हमारे खून में हीमोग्लोबिन यानी स्वस्थ लाल रक्त कोशिकाएं पर्याप्त मात्रा में ना हो)हीमोग्लोबिन शरीर की रक्त कोशिकाओं को ऑक्सीजन आबद्ध करने के लिए बहुत आवश्यक होता हैं।अगर खून में हीमोग्लोबिन की यानी स्वस्थ लाल रक्त कोशिकाएं कम हो या असामान्य हो तो हमारे शरीर को पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन नही मिल पाता हैं।जिससे हमारा शरीर एनीमिया से प्रभावित हो जाता हैं।

    एनीमिया एक बहुत गंभीर बीमारी है,यह बच्चों, महिलाओं और लंबे समय से चल रहे बीमारी से पीड़ित लोगों को बहुत आसानी से हो सकता हैं।एनीमिया बीमारी के परीक्षण के दौरान देखा गया हैं की यह बीमारी किशोरावस्था व रजोनिवृत्ति के बीच की आयु में सबसे अधिक होता हैं।



एनीमिया बीमारी से सबसे ज्यादा गर्भवती महिलाएं पीड़ित रहती हैं क्यूक़ि इस दौरान महिलाओं को अपने पेट में पल रहे शिशु के लिए रक्त का निर्माण करना होता हैं।जिस वजह से गर्भवती महिलाओं को इस एनीमिया बीमारी से पीड़ित होने की संभावना सबसे ज्यादा होती हैं।इस बीमारी के वजह से गर्भवती महिलाओं को प्रसव के दौरान बहुत परेशानियां होती हैं।जिस वजह से कुछ महिलाओं की प्रसव के दौरान मौत भी हो जाती है।इसलिये गर्भवती महिलाओं को हमेशा हरी सब्जी व अन्य विटमिन्स युक्त भोजन का सेवन करने की सलाह दी जाती है जिससे उनके शरीर में पर्याप्त मात्रा में खून का निर्माण होता रहें।


इस गंभीर बीमारी का सामना करने के लिए आपको इसके लक्षण, कारण और उपचार के बारे में जानकारी होना बहुत जरूरी हैं।आइये जानें एनीमिया के लक्षण,कारण और उपचार।


एनीमिया के लक्षण, कारण और उपचार

Anemia symptoms, causes and treatment in Hindi

Anemia symptoms, causes and treatment


जानें एनीमिया के लक्षण-
Learn the symptoms of anemia in Hindi
●शरीर मे कमजोरी होना या बहुत ज्यादा थकावट लगना।
त्वचा का पीला होना या सफेद होना।
सांस लेने में तकलीफ होना।
सांस का फूलना।
सिर दर्द होना।
●चक्कर आना।
सीने में दर्द होना।
हाथों और पैरों का ठंडा पड़ जाना।
दिल की धड़कनों का अचानक तेज होना या असामान्य होना।
● नाखूनों,जीभ एवं पलकों के अंदर सफेदी पड़ जाना।



जानें एनीमिया के कारण-
Learn the causes of anemia in Hindi
●शरीर में आयरन की कमी के कारण।
शरीर में विटामिन्स की कमी के कारण।
शरीर में हार्मोन्स के निर्माण में कमी होने के कारण जिससे लाल रक्त कोशिकाओं के निर्माण में कमी होने कारण।
●खून में दोषपूर्ण लाल रक्त कोशिकाओं के निर्माण के कारण।
●लाल रक्त कोशिकाओं के नष्ट होने के कारण।
लौह तत्व वाले खाद्य प्रदार्थो का उचित मात्रा में सेवन न करनें के कारण।
महिलाओं में माहवारी के दौरान अत्यधिक खून के बह जाने के कारण।
बार-बार गर्भवती होने के कारण।
किसी भी दुर्घटना के दौरान चोट लगने से अत्यधिक खून के बह जाने के कारण।


जानें एनीमिया के हरेलू उपचार-
Learn home remedies for anemia in Hindi


1.पालक का सेवन करें-Eat spinach in Hindi
spinach

       जो लोग एनीमिया की बीमारी से पीड़ित हैं उन लोगों के लिए भोजन में पालक की सब्जी का सेवन करना बहुत ज्यादा फायदेमंद होगा क्यूक़ि पालक में भरपूर मात्रा में आयरन, विटामिन्स A,B,C,E,फाइबर होता हैं।जो हमारे शरीर में खून की मात्रा को बढ़ाता है और एनीमिया की बीमारी से छुटकारा देता हैं।


2.आयरन युक्त भोजन का सेवन करें-
   Eat iron rich food in Hindi
Eat iron rich food

       हमारे शरीर में अगर पर्याप्त मात्रा में आयरन उपलब्ध न हो तो खून में हीमोग्लोबिन का निर्माण नहीं हो पाता हैं जिससे शरीर में खून की कमी हो जाती हैं और हमें एनीमिया से पीड़ित होना पड़ता हैं इसलिये एनीमिया से पीड़ित रोगी के लिए आयरन युक्त भोजन बहुत ज्यादा फायदेमंद होता हैं।आयरन युक्त भोजन जैसे हरि सब्जियां,लौकी, पालक इत्यादि में आयरन भरपूर मात्रा में पाया जाता हैं।



3.अनार का जूस पियें-
    Drink pomegranate juice in Hindi
pomegranate juice

        एनीमिया यानी खून की कमी को दूर करने के लिए अनार का जूस एक रामबाण औषधि की तरह काम करता हैं।अनार का जूस प्रतिदिन कम से कम 2 बार पिये और शरीर में खून का स्तर बढ़ाये।


4.गाजर का जूस पियें-Drink carrot juice in Hindi
carrot juice

       जो लोग एनीमिया के शिकार हैं और शारीरिक रूप से बहुत ज्यादा कमजोरी का अनुभव कर रहे उन पीड़ितों के लिए गाजर का जूस बहुत ही लाभदायक होता हैं क्यूक़ि गाजर में भरपूर मात्रा में आयरन उपलब्ध होता हैं जो शरीर को सक्ति प्रदान करता हैं और एनीमिया से छुटकारा दिलाता हैं।गाजर को हम सीधे भी खा सकते हैं।



5.टमाटर का सेवन करें-Eat tomatoes in Hindi
tomatoes

     टमाटर के सेवन से हमारे शरीर में लोह तत्व की पूर्ति होती हैं जिससे हिमोग्लोबिन का स्तर पर्याप्त मात्रा में बने रहता हैं।टमाटर का सेवन हम सब्जी के साथ कर सकते हैं और इसे हम इसे सीधे काटकर सेंधा नमक व काली मिर्च के साथ भी खा सकते है।हम टमाटर का जूस बनाकर भी पी सकते हैं जो एनीमिया रोग में बहुत ज्यादा फायदेमंद होता हैं।


6.गुड़ का सेवन करें-Eat jaggery in Hindi
jaggery

        वैसे तो भोजन करने के बाद गुड़ सेवन करना स्वास्थ्य के लिए बहुत ज्यादा फायदेमंद होता हैं।लेकिन क्या आप जानते हैं गुड़ एनीमिया से पीड़ित लोगों के लिए बहुत लाभकारी होता हैं क्यूक़ि गुड़ में लोह तत्व की भरपूर मात्रा पायी जाती हैं जिससे शरीर में खून की कमी नहीं होती है।इसलिए आप भी भोजन करने के बाद गुड़ खाने की आदत डाल लें और शरीर को एनीमिया से बचाये।


7.हरी सब्जियों का सेवन करें-
  Eat green vegetables in Hindi
    Eat green vegetables

     हरी सब्जियों का सेवन करना एनीमिया मरीजों के लिए बहुत ही ज्यादा फायदेमंद होता हैं क्यूक़ि हरी सब्जियों में भरपूर मात्रा में आयरनविटामिन A पाया जो शरीर में खून की कमी नहीं होने देते हैं और एनीमिया से बचाये रखते हैं।इसलिए प्रतिदिन भोजन में हरी सब्जियों का सेवन करें।



इस लेख में आपको एनीमिया जो की एक गंभीर बीमारी हैं,इसके बारे में जानकारी देने की कोशिश की हैं आशा करते हैं ये जानकारी आपके लिए बहुत फायदेमंद हो और आप सदा हेल्दी और सुखी रहें।


नोट👉अगर आपको अपने शरीर में एनीमिया से सम्बंधित लक्षण दिखते हैं तो आपको एक अच्छे चिकित्सक से शरीर की जाँच करना बहुत जरुरी हैं।


      

Share this

Related Posts

Previous
Next Post »

Thank you for comment

Featured Post

मन की बात' में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 'लॉक डाउन' से परेशानी पे देशवासियों से माफी मांगी और कहा 'सोशल डिस्टेंस बढ़ाओ, इमोशनल डिस्टेंस घटाओ'

'मन की बात' में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 'लॉक डाउन' से परेशानी पे देशवासियों से माफी मांगी और कहा 'सोशल डिस्टेंस ...