मानसिक तनाव क्या हैं?जानियें इसके लक्षण,कारण और उपाय! What is mental stress? Know its symptoms, causes and remedies in Hindi

मानसिक तनाव क्या हैं?जानियें इसके लक्षण,कारण और उपाय!

What is mental stress? Know its symptoms, causes and remedies in Hindi

mental stress

नमस्कार, Indian हेल्थ गुरु में आपका बहुत स्वागत हैं।दोस्तों आज हम बात करने जा रहें हैं मानसिक तनाव के बारें में,दोस्तों वर्तमान समय में हमारा रहन-सहन, खान-पान कुछ इस तरह का हो चुका हैं की हम छोटी-छोटी समस्याओं के बारे में बहुत सोच-विचार करने लग जाते हैं व धैर्य की कमी भी बहुत हो चुकी हैं,हम हर कार्य को वक्त से पहले करना चाहते हैं,हम हर वक्त भविष्य के बारे में हद से ज्यादा सोचने लगें हैं,दोस्तों इस तरह के जीवन-यापन में मानसिक तनाव का होना सामान्य बात हैं।दोस्तों तनाव चाहें किसी कारण हो या किसी लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए हो दोनों तरह से तनाव हमारे सेहत के लिए बिल्कुल भी सही हैं।ज्यादा मानसिक तनावग्रस्त होने से हमारी सेहत बिगड़ सकती हैं।आइये जाने मानसिक तनाव के बारे में।




मानसिक तनाव क्या हैं?What is mental stress?

mental stress

दोस्तों बायोलॉजी के हिसाब से मानसिक तनाव की परिभाषा -
"मानसिक तनाव मनः स्थिति से उपजा एक विकार हैं।मनः स्थिति (मन की स्थिति) व परिस्थिति के बीच में बीच असंतुलन एवं असामंजस्य के कारण तनाव उत्पन्न होता है। तनाव एक द्वन्द है, जो मन एवं भावनाओं में गहरी दरार पैदा करता है।"
सामान्य भाषा में मानसिक तनाव एक ऐसा तनाव होता हैं जो मन के विचार धाराओं और भावनाओं के बीच में एक बहुत गहरी दरार पैदा करता हैं।इस स्थिति में हमारा मन बिल्कुल अशान्त रहता हैं व दिमाग अच्छे से काम नहीं कर पाता हैं।मानसिक तनाव हमारे तन व मन दोनों पे बुरा असर डालता हैं और इससे हमारी दैनिक दिनचर्या की हालत बिल्कुल बिगड़ जाती हैं,कोई भी काम ढंग से नही हो पाता हैं।

मानसिक तनाव के लक्षण

Symptoms of mental stress in Hindi

mental stress



नींद पूरी न हो पाना(Failure to sleep in Hindi)

       दोस्तों मानसिक तनाव में हमारी नींद पूरी नहीं हो पाती हैं ,मानसिक तनाव से आराम पाने के लिए नींद लेना बहुत जरूरी हैं लेकिन मानसिक तनाव में जब भी हम सोने की कोशिस करते हैं तो अच्छे से सो नही पाते हैं, जब सोते हैं तो समय-समय पे नींद खुल जाती हैं।ऐसा इसलिए होता हैं जिस वजह से भी हमें मानसिक तनाव हुआ रहता हैं वो वजह हमें बार-बार याद आती हैं यानी की विचार धाराओं का असन्तुलन हुआ रहता है और हमारे रातों की नींद उड़ जाती है।

मानसिक तनाव से दिमाग का असन्तुलित हो जाना(Disentangling of mind due to mental stress in Hindi)

       अत्यधिक मानसिक तनाव होने के कारण हमारे दिमाग का संतुलन बिगड़ जाता हैं।ज्यादा सोचने के कारण इसका सीधा असर हमारे दिमाग पर पड़ता हैं,यहां तक की मानसिक तनाव बहुत ज्यादा होने से व्यक्ति अपनी सोचने की क्षमता भी खो सकता हैं।



भावनात्मक प्रतिक्रियाओं का बढ़ जाना(Increased emotional responses in Hindi)

          मानसिक तनाव में भावनात्मक प्रतिक्रियाएं बढ़ जाती हैं ,इसमें हमें छोटी-छोटी बातों में रोना आता हैं,कोई भी किसी बात के लिए हमें कुछ बोले हम बहुत भावुक हो जाते हैं और बहुत रोने लगते हैं।

मानसिक तनाव से मन में आत्महत्या का विचार आना(Thoughts of suicide come to mind due to mental stress in Hindi)

        जब भी जीवन में बहुत बड़ी समस्या आ जायें और कोई साथ देने वाला न हो तो इस स्थिति में हम अपने आपको सब से अलग कर लेते हैं जिससे हमारे मन में आत्महत्या के विचार आने लगते हैं।

शरीर में पाचन संबंधित समस्याओं का होना

(Digestive problems in the body in Hindi)

            मानसिक तनाव से हमारे पाचन तंत्र पे बहुत ज्यादा असर पड़ता हैं क्यूक़ि हमारा पाचन तंत्र और मस्तिष्क वेगस नर्व्स द्वारा एक दूसरे से जुड़े हुवे होते हैं।मानसिक तनाव की स्थिति में हमारे शरीर में भोजन को पचाने वाले बैक्टीरियाओ में बहुत ज्यादा कमी हो जाती हैं जिससे पाचन शक्ति बहुत कमजोर हो जाती हैं।

मानसिक तनाव में स्वास्थ्य सम्बंधित समस्याओं का होना(Mental stress related health problems in Hindi)

         मन में अत्यधिक तनाव उत्पन्न होने की वजह से स्वास्थ्य से सम्बंधित बहुत समस्याएं हो सकती हैं जैसे सिरदर्द, साँस लेने की समस्या,दिल की धड़कन घटना या बढ़ना,बालों के झड़ने की समस्या आदि समस्याएं होने लगती हैं।

दोस्तों ये थे  मानसिक तनाव के कुछ मुख्य लक्षण।मानसिक तनाव के और भी बहुत सारे लक्षण हो सकते हैं हमनें आपको कुछ मुख्य लक्षणों के बारे में बताने की कोशिश की हैं।




मानसिक तनाव के कारण

Reasons for mental stress in Hindi


मन में असफलता के डर के कारण(Due to fear of failure in mind in Hindi)

            किसी कार्य के कारण मन में असफलता का भय पैदा  होने से मानसिक तनाव हो सकता हैं। जब व्यक्ति किसी कार्य में असफल होने के डर के कारण बहुत ज्यादा सोचने लगता हैं तो वह बहुत ज्यादा तनावग्रस्त हो जाता हैं।ज्यादा सोचने के कारण दिमाग में बहुत ज्यादा असर पड़ता हैं जिससे व्यक्ति मानसिक तनावग्रस्त हो जाता हैं।

जीवन में आर्थिक परेशानी के कारण(Due to financial troubles in life in Hindi)

              जीवन में कभी नौकरी चले जाने या व्यापार में स्थिति खराब होने के कारण धन की समस्या हो जाने के कारण आर्थिक स्थिति बहुत बिगड़ जाती हैं जिससे व्यक्ति बहुत मानसिक तनावग्रस्त हो जाता हैं।




रिश्ते टूट जाने या खराब रिश्ते के कारण होता हैं मानसिक तनाव(Mental stress is caused by relationship breakdown or bad relationship in Hindi)

          लम्बे समय से चला आ रहा कोई रिश्ता जैसे माता-पिता, पति/पत्नी,कोई अच्छे दोस्त के बीच में अगर किसी वजह से आपस में सम्बंध टूट जाते हैं या खराब हो जाते हैं तो व्यक्ति बहुत एकेलापन महसूस करने लगता हैं, इससे व्यक्ति आंतरिक मन से टूट जाता हैं और बहुत ज्यादा मानसिक तनावग्रस्त हो जाता हैं।




नकारात्मक सोच के कारण होता हैं मानसिक तनाव(Mental stress is caused by negative thinking in Hindi)

             अगर कभी हमारे जीवन में कोई काम होने वाला हो और हम उस काम के बारे में सोचकर बहुत परेशान हो जाते हैं और हमारे दिमाग में नकारात्मक सोच पैदा होने लगती हैं जिससे हमें मानसिक तनाव हो सकता हैं।

अस्वस्थ आहार का सेवन करने से होता हैं मानसिक तनाव(Eating unhealthy diet causes mental stress in Hindi)

               अस्वस्थ आहार में, अगर हम कैफीन युक्त प्रदार्थो का सेवन करते हैं तो मानसिक तनाव हो सकता हैं,कैफीन युक्त प्रदार्थ में जैसे  चाय,कॉफी का अगर मात्रा से ज्यादा सेवन करने में तनाव बहुत ज्यादा बढ़ जाता हैं।एल्कोहल की ज्यादा मात्रा लेने पर भी मानसिक तनाव हो सकता हैं।




मानसिक तनाव के उपाय

Measures of mental stress in Hindi


अपने पिर्यजनो के साथ मन की छोटी-छोटी बातों को शेयर करें(Share small things of mind with your family in Hindi)

     
Share small things of mind with your family
    जब व्यक्ति मानसिक तनाव में होता हैं तो वह अंदर से बहुत ज्यादा टूटा हुआ होता हैं, उसके मन में बहुत बातें चल रहीं होती हैं और वह बहुत एकेलापन महसूस करता हैं इसलिए इस स्थिति से बाहर निकलने के लिए व्यक्ति को अपने पिर्यजनो से बातें शेयर करनी चाहिए ,इससे जो भी मन में छोटी-छोटी बातें होती हैं वो बाहर निकल जाती हैं और मन हल्का हो जाता हैं,इस तहर व्यक्ति मानसिक तनाव से बाहर निकल सकता हैं।




नई-नई जगह घूमने जायें

(Go to new places in Hindi)

          
  मानसिक तनाव में एक जगह रहने से, जिस घटना से भी हम मानसिक तनाव में होते हैं उस घटना की हमें बार-बार याद आती हैं।इसलिय हमे उस घटना को भूलने के लिए कुछ दिन नई-नई जगह घूमना चाहिए इससे हमारा मन हल्का होगा और मानसिक तनाव से बहुत आराम मिलेगा,क्यूक़ि जैसा हम देखते हैं और सोचते हैं वैसा ही हमारा मन भी हो जाता हैं इसलिए मानसिक तनावग्रस्त व्यक्ति के लिए नई-नई जगह घूमना बहुत लाभदायक होता हैं।




मानसिक तनाव में अपने आप को रखें कार्य में बिजी(Keep yourself busy at work under mental stress in Hindi)

      
     मानसिक तनाव में हमेशा अपने आप को कार्य में बिजी रखना चाहिए ताकि जिस भी कारण हम मानसिक तनाव में होते है उससे हमारा ध्यान हट सके,प्रतिदिन कार्य का एक शेड्यूल बना लें और अपने आप को कार्य में बिजी रखें,खाली न बैठें क्यूक़ि खाली बैठने से ज्यादा सोच- विचार होने लगते हैं जिससे व्यक्ति और ज्यादा मानसिक तनावग्रस्त हो जाता हैं। कार्य में बिजी होने से मानसिक तनाव में आराम मिलता हैं।




संगीत से मानसिक तनाव में आराम(Relieve mental stress with music in Hindi)

   
  मधुर-मधुर व मंद-मंद संगीत मानसिक तनाव में बहुत ही ज्यादा फायदेमंद होता हैं, व्यक्ति अगर मंद-मंद ध्वनि में संगीत का आनंद लें तो इससे प्रतिदिन जीवन मे बहुत बदलाव आते हैं।जब व्यक्ति मानसिक तनाव में होता हैं तो व्यक्ति को मोटीवेट करने वाले संगीत का आंनद लेना चाहिए।मधुर-मधुर व मंद-मंद संगीत सुनने से व्यक्ति को मन व तन दोनों से शांति मिलती है और मानसिक तनाव में बहुत आराम मिलता हैं।



मानसिक तनाव दूर करने के कुछ अन्य उपाय(Some other measures to relieve mental stress in Hindi)

प्रतिदिन सुबह-शाम व्यायाम करें ,व्यायाम से मानसिक व शारीरिक दोनों स्थिति में लाभ होता हैं।

●मानसिक तनाव दूर करने के लिए मोबाइल गेम या कोई भी गेम खेले जिससे आपको तनाव से मुक्त होने में बहुत मदद मिलेगी।

●परिवार के साथ ज्यादा से ज्यादा वक्त बिताएं व मिल-जुल कर रहें।

●मनोरंजन करें जैसे मोटिवेटेड मूवी देखें।

●शराब ,कैफीन,ड्रग्स से जितना हो सकें दूर रहें।इनका सेवन बहुत कम मात्रा में करें और अगर हो सकें तो बिल्कुल भी ना करें ये मानसिक तनाव और ज्यादा बढ़ाते है।

दोस्तों ये थी मानसिक तनाव के बारें में कुछ जानकारी आशा करते हैं ये जानकारी आपके काम आये और आपका जीवन सुखी और तनाव मुक्त हो।

👉नोट:-दोस्तों ध्यान दें अगर आपने सारे उपाय अपनाके देख लिए हो और फिर भी मानसिक तनाव हो रहा हो तो इस स्थिति में एक अच्छे चिकित्सक की सलाह जरूर लें।







             

Share this

Related Posts

Previous
Next Post »

Thank you for comment

Featured Post

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाये और कोरोना वायरस को भगाए। Increase immunity and drive away the corona virus in Hindi

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाये और कोरोना वायरस को भगाए। Increase immunity and drive away the corona virus in Hindi रोग प्रतिरोधक क्षम...