छाती (सीने)में दर्द के कारण और आसान घरेलू उपाय।Causes of chest pain and easy home remedies.

छाती (सीने)में दर्द के कारण और आसान घरेलू उपाय।

Causes of chest pain and easy home remedies.


chest pain

दोस्तों आज के समय में हमारा खान-पान व वातावरण कुछ इस तरह का हो चुका हैं की छाती(सीने) में दर्द होना सामान्य सी बात है।अक्सर बहुत सारे लोगों को अचानक से सीने में दर्द होना सुरु हो जाता है और साँसे रूक सी जाती है।इस स्थिति में हमारा दम सा घुटने लगता है और मन में घबराहट सी पैदा हो जाती है।ऐसा अचानक सीने में होने वाला दर्द थोड़ी देर में सामान्य स्थिति में आ जाता हैं इसलिए हम इसे बहुत हल्के में ले लेते है।दोस्तों इसे हल्के में ना ले,ये आपके सीने से जुड़ी बहुत बड़ी समस्या भी हो सकती है इसलिए ऐसी स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरुर लें।आप इस भरोसे ना बैठे रहे की ये तो नॉर्मल सी बात है ,अगर आपको ये समस्या बार-बार हो रही है तो तुरंत किसी अच्छे से डॉक्टर की सलाह जरूर लें। क्योंकि जरूरी नही है की ये दर्द हर बार नॉर्मल स्थिति में आ जायें।

chest pain

      अचानक से जब हमारी छाती में दर्द होता है तो बहुत बार लोगों को लगता है की कहि ये हार्ट अटैक तो नही है या फिर हमारे हदय से जुड़ी बीमारी तो नही है।दोस्तों सामान्यतः हर किसी के मन में यही विचार आते है लेकिन छाती या सीने में दर्द होना हार्ट अटैक ही हो ऐसा जरूरी नही होता है। ऐसा हमारे डेली खान-पान या वातावरण से भी हो सकता है। लेकिन ये शरीर का सबसे मुख्य भाग है इसी के अंदर हमारी साँसे चलती है इसलिये हमें इसकी केअर करना बहुत जरुरी हैं।

आइये दोस्तों जाने छाती(सीने) में दर्द की समस्या के कारण और आसान से घरेलू उपाय।



छाती (सीने) में दर्द के कारण

Causes of chest pain



हर किसी को छाती (सीने) में दर्द अलग कारणों से होता है।जरूरी नही की इसकी वजह हदय (दिल) में दर्द हो। सामान्यतः यह जीव विज्ञान(बायोलॉजी) के हिसाब से तीन कारणों से हो सकता हैं।

1.हदय(दिल) से सम्बंधित कारण।
2.फेफड़ों से सम्बंधित कारण।
3.मांसपेशी या हड्डी से सम्बन्धित कारण।





heart


1.हदय(दिल) से सम्बंधित कारण-

Causes related to heart 


👉कार्डियोमायोपैथी-  हदय(दिल) की मांसपेशियों की एक बीमारी है।

👉दिल का दौरा(हार्ट अटैक)-  इस स्थिति में अचानक से हदय में दर्द होता है और साँसे रुक सी जाती हैं।

👉मायोकार्डिटिस-इस स्थिति में हमारे हदय की मांसपेशियों में सूजन हो जाता है।

👉एंजाइना - इसमें हमारे हदय की रक्त वाहिकाओं में अवरुद्ध यानी हदय में पहुँचने वाली रक्त(खून) की मात्रा कम हो जाती है।जिससे हमारे सीने में बार-बार दर्द होता है।

👉पेरिकार्डिटिस- इसमें हमारे दिल के पास थैली में सूजन होना सुरु जो जाता है जिससे हमारे दिल मे दर्द होता है।

👉एऑर्टिक डाइसेक्शन- ये हदय के महाधमनी में खरोंच आने या छेद होने के कारण होता है।इसमें इंसान के बचने के बहुत कम चांस होते है।


👉पैनिक अटैक(चिंता)- इस स्थिति में 15-20 मिनट तक  हमारे दिल की धड़कने बढ़ जाती है साँसे फूलने लगती है,चक्कर जैसा आने लगता है जिससे हमारी छाती में दर्द होता है।





2.फेफड़ों से सम्बंधित कारण-

Lung cause



👉निमोनिया- इसमें हमारी साँसे फूलने लगती है,साँसे अंदर-बाहर करने में बहुत परेशानी होती है,दम घुटने लगता है और छाती में तेज दर्द होता है।
Lung

👉ब्रोंकाइटिस-  इसमे श्वसनी के दीवारों में इंफेक्शन या सूजन हो जाता है जिससे ये बहुत कमजोर हो जाती है।

👉सूजन की वजह से बलगम की समस्या हो जाती है।

👉न्यूमोथोरैक्स- इसमें फेफड़ों से हवा का रिसाव छाती में होने लग जाता है।

👉प्लूरिसी- सूखी खांसी,गीली खासी,आदि। श्वासनली ले रोग शामिल होते हैं।

👉पल्मोनरी एम्बोलिज्म या रक्त का थक्का बन जाना।




3.मांसपेशी या हड्डी से सम्बन्धित कारण- Muscle or bone related causes


कॉस्टोकोंडराइटिस- इसमे सीने की पसलियों में सूजन के कारण दर्द होता है।साँस लेने में फेफड़ों में तकलीफ होती है। जोर से खाँसने और छिकने में छाती में दर्द होता है।
👉ज्यादा शारीरिक कार्य करने के कारण हदय में फुलाव के करण दर्द हो जाता है।


👉हदय की टूटी हुवी पसली से ।

👉पसलियों के फैक्चर के कारण स्वास नली में दबाव पड़ता है।

👉थकावट के कारण हदय के मांसपेशियों में दर्द हो सकता है।




छाती (सीने) में दर्द के आसान घरेलू उपायEasy home remedies for chest pain


सीने में दर्द से हमें अपने डेली रूटिंग में बहुत परेशानियां होती है।किसी से ज्यादा देर तक बात भी करे तो सीने में और दर्द बढ़ जाता है,दोस्तों बाजार से हम इस दर्द की समस्या से छुटकारा पाने के लिए बहुत सारी दवाइयों का सेवन करते हैं।दोस्तों बाजरा में हमें बहुत महंगी-महंगी दवाइयां मिलती है जो एक बीमारी तो ठीक करती है,लेकिन इनके साइड इफेक्ट भी होते है।दोस्तों आज हम आपको कुछ ऐसे आसान से हरेलू उपाय बतायेंगे जिनसे आप बहुत हद तक सीने में दर्द से छुटकारा पा सकते हो।आइये जाने सीने में दर्द के कुछ आसान घरेलू उपाय।

तुलसी का सेवन करें- Eat basil

basil

तुलसी के पत्ते छाती यानी सीने के दर्द में बहुत लाभदायक औषधी का काम करती है।क्योंकि तुलसी के पत्तो में विटामिन K मैग्नीशियम पाया जाता है।मैग्नीशियम हदय के लिए बहुत सहायक होता है क्योंकि ये हदय में रक्त के प्रवाह में कोलेस्ट्रॉल के निर्माण को रोकता हैं।

👉तुलसी के पत्तो की चाय बनाकर पियें।

👉दो चम्मच शहद और दो चमच्च तुलसी का रस मिलाकर इसे प्रतिदिन सुबह और शाम को पियें।

👉तुलसी के पत्तो को चबाकर भी खा सकते है।

👉इसका सेवन प्रतिदिन सुबह-शाम करें।




लहसुन का सेवन करें- Eat garlic

garlic

लहसुन सीने में दर्द से छुटकारा पाने लिए बहुत ही उपयोगी माना जाता है।लहसुन कैलेस्ट्रोल को कन्ट्रोल करता है और प्लाक को धमनियों तक नही पहुँचने देता हैं।लहसुन हदय में रक्त के प्रवाह को सन्तुलित बनाये रखता है जिससे यह कार्डियोवैस्कुलर बीमारी को रोकने में बहुत ही मददगार होता हैं।

👉प्रतिदिन सुबह और शाम एक चम्मच लहसुन का रस एक कप गुनगुने पानी में अच्छे से मिलाकर पीयें।

👉रोजाना एक दाना लहसुन और दो दाने लौंग चबाकर भी खा सकते हैं।

👉लहसुन को हम अपने भोजन में मसालों से साथ मिलाकर भी खा सकते है ,जिससे कुछ हद तक सीने में दर्द से राहत मिलेंगी।




विटामिन्स का सेवन करें- Take vitamins

vitamins

दोस्तों विटमिन्स की कमी से ही हमारे शरीर के अंगो में कमजोरी आती हैं।विटमिन सीने के दर्द में बहुत ही फायदेमंद होते है।विटामिन्स में विटामिन-D,विटामिन-B12 बहुत ही फायदेमंद होते हैं। इसलिए ऐसे पदार्थ खाएं जिनमें भरपूर मात्रा में विटामिन हो।

👉विटामिन -D के लिए प्रतिदिन सुबह-सुबह की मीठी-. मीठी धूप लें।

👉मांस का सेवन करें जैसे मछ्ली, पनीर, अंडे आदि
फलों का सेवन करें।






मेथी का सेवन करें- Take fenugreek

fenugreek

मेथी हदय के लिए बहुत ही लाभकारी होती है।मेथी के सेवन से हमारा हदय स्वस्थ रहता हैं। यह सीने के दर्द को रोकने में बहुत काम आती हैं।मेथी के एंटीऑक्सीडेंट व कार्डियोप्रोटेक्टिव गुण कलेस्ट्रॉल को कन्ट्रोल करने में बहुत काम आते हैं और रक्त का प्रवाह भी बहुत अच्छे से होता हैं।

👉मेथी के बीजों को रात में भिगाकर रख ले और फिर अलगे दिन इन भीगे हुवे बीजों का सेवन करें जो छाती के दर्द में बहुत काम आते है और कोलेस्ट्रॉल को भी दूर करते है।

👉मेथी के दानों को 05 मिनट तक पानी में उबाले और फिर उबले हुवे पानी को अच्छे से छान लें और एक ग्लास पानी में दो चम्मच शहद डालकर पी लें।

👉मेथी का सेवन प्रतिदिन सुबह-शाम करें।



हल्दी-मिल्क का सेवन करें-

Drink turmeric-milk


turmeric-milk

हल्दी-मिल्क हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभकारी होता हैं।हल्दी में पाये जाने वाला करक्यूमिन जो थक्का बनाने और धमनी प्लाक को कम करने में सहायक होता है।ये सीने में होने  वाले दर्द में बहुत लाभ पहुचाता है और सीने के सूजन को कम करता हैं।करक्यूमिन में एंटीइम्फेमेटरी गुण पाया जाता है जो दर्द से बहुत जल्दी राहत देता हैं। प्रतिदिन हल्दी को दूध में मिलाकर पीयें जिससे आपको सीने में दर्द से बहुत राहत मिलेंगी।

👉एक ग्लास में गर्म दूध ले और उसमें एक चम्मच हल्दी मिला ले फिर इसका सेवन करें।

👉इसका सेवन प्रतिदिन रात में सोने से पहले करें ।




एलोवेरा जूश का सेवन करें-

Take aloe vera juice


एलोवेरा एक बहुत ही चमत्कारी औषधी हैं।इसमें बहुत सारे औषधी गुण होते है जो बहुत सारे रोगों में काम आता हैं।ये हदय से सम्बन्धित बिमारियों में बहुत फायदेमंद होता है।ये हदय को मजबूत बमाये रखता है,कोलेस्ट्रॉल को कन्ट्रोल करता है,रक्तचाप को कम करने में काम आता है और ट्राइग्लिसराइड के स्तर को भी कम करता हैं।एलोवेरा का जूश हमारे सीने के दर्द में एक बहुत गुणकारी औषधी के रूप में काम करता है।

👉एलोवेरा के जूश का डेली 1/4 कप का सेवन करें।

👉इसका सेवन प्रतिदिन 1-3 टाइम करें।




बादाम का सेवन करें

Eat almonds

almonds

बादाम हदय के लिये बहुत फायदेमंद होता है इसमें पॉलीअनसेचुरेटेड फैटी एसिड होता है जो हमारे रक्त के कोलेस्ट्रॉल को कम करने में बहुत काम आता है।ये कोलेस्ट्रॉल को कन्ट्रोल करता है जिससे सीने में दर्द से बहुत राहत मिलती हैं।

👉बादाम के तेल और गुलाब जल को मिलाकर सीने में मालिश करें जिससे सीने में दर्द से राहत मिलेगा।

👉प्रतिदिन भुने हुवे बादाम का सेवन करें।

👉भीगे हुवे बादाम का छिलका हटाकर बादाम का सेवन करें।




दोस्तों हमने आपको सीने के दर्द के कारण और सीने के दर्द से छुटकारा पाने के लिए कुछ आसान से हरेलू उपाय बताने की कोशिश की हैं।हम आशा करते हैं ये जानकारी आपके लिए फायदेमंद हो और आप स्वस्थ्य और सूखी जीवन रहें।











Share this

Related Posts

Previous
Next Post »

Thank you for comment

Featured Post

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाये और कोरोना वायरस को भगाए। Increase immunity and drive away the corona virus in Hindi

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाये और कोरोना वायरस को भगाए। Increase immunity and drive away the corona virus in Hindi रोग प्रतिरोधक क्षम...